पौड़ी के रिखणीखाल में प्रसव में निकला मृत बच्चा, महिला की भी मौत

Spread the love

जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार। विकासखंड रिखणीखाल निवासी एक महिला की प्रसव के बाद मौत हो गई। हालांकि स्वास्थ्य विभाग महिला की मौत का कारण अधिक रक्तस्राव होना बता
रहा है। महिला को सीएचसी रिखणीखाल से बेस अस्पताल कोटद्वार रैफर किया गया था लेकिन रास्ते में ही महिला ने दम तोड़ दिया। पुलिस ने महिला के शव का
पंचायतनामा भरकर तथा पोस्टमार्टम कराने के बाद शव परिजनों को सौंप दिया है।
थाना कोटद्वार के एसएसआई प्रदीप नेगी ने बताया कि बमेला तल्ला रिखणीखाल निवासी 24 वर्षीय श्रीमती स्वाति ध्यानी पत्नी राजेन्द्र प्रसाद ध्यानी को प्रसव
पीड़ा के कारण 28 जून 2020 को सीएचसी रिखणीखाल में भर्ती कराया गया। जहां गत सोमवार 29 जून को दोपहर करीब 3 बजे प्रसव पीड़ा के दौरान स्वाति ने
एक पुत्र को जन्म दिया, जो कि मृत अवस्था में हुआ। बच्चे के जन्म के बाद महिला का बहुत अधिक रक्तस्राव होने के कारण हालत ज्यादा बिगड़ गई। महिला की
हालत को देखते हुए डॉक्टरों से उसे हायर सेंटर राजकीय बेस अस्पताल कोटद्वार रैफर कर दिया। रात को करीब साढ़े आठ बजे उसे बेस अस्पताल कोटद्वार में लाया
गया। जहां चिकित्सकों उसे मृत घोषित कर दिया। डॉक्टर ने महिला की मौत प्रसव पीड़ा के दौरान अधिक अधिक रक्तस्राव हो जाना बताया। एसएसआई ने बताया
कि मृत्यु का कारण अधिक रक्तस्राव होना बताया जा रहा है। स्वाति का यह पहला बच्चा था। करीब डेढ़ वर्ष पूर्व उसकी शादी राजेन्द्र प्रसाद ध्यानी से हुई थी। राजेन्द्र
देहरादून में प्राइवेट नौकरी करता है। महिला की मौत के बाद पहाड़ के स्वास्थ्य केन्द्रों और स्वास्थ्य की बदहाल स्थिति का स्पष्ट पता चलता है कि पहाड़ में स्वास्थ्य
सेवाएं कितनी बदतर हो चुकी है। इस मामले में सीएमओ पौड़ी डॉ. मनोज बहुखण्डी ने बताया कि मामला संज्ञान में नहीं है। अगर ऐसा है तो रिखणीखाल स्वास्थ्य
केन्द्र से बात की जाएगी। उसके बाद पूरे मामले की जांच कराई जायेगी। जांच के बाद घटना में दोषी पाए जाने पर नियमानुसार कार्रवाई की जायेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!