प्रवासियों को वापस लाने के प्रयास जारी, लौटने वालों की संख्या में आयी कमी

Spread the love

-दिल्ली से खाली लौटी परिवहन निगम की 15 बसें
–तीन दिन वहां रहने के बावजूद वापसी के लिए कोई यात्री नहीं मिला
संवाददाता, देहरादून। प्रदेश सरकार द्वारा प्रवासियों को वापस लाने के प्रयास जारी हैं। उत्तराखंड में वापस आने के लिए 257344 लोग अपना रजिस्ट्रेशन करा चुके हैं। इनमें से 173923 वापस आ चुके हैं। अब इनकी संख्या में कमी देखने को मिल रही है। इसका ताजा उदाहरण दिल्ली से खाली लौटी परिवहन निगम की 15 बसें हैं। इन्हें तीन दिन तक वहां रहने के बावजूद वापसी के लिए कोई यात्री नहीं मिल पाया। इसका एक कारण गांवों में अनिवार्य रूप से क्वारंटाइन किया जाना और राज्य में कोरोना के मामलों की बढ़ती संख्या को भी माना जा रहा है। हालांकि, अन्य राज्यों से अभी लोगों के आने का सिलसिला जारी है।
लॉकडाउन चार में मिली छूट के बाद प्रदेश में वापस आने वालों का सिलसिला जारी है। विभिन्न स्थानों से अब तक प्रदेश में 1.70 लाख से अधिक लोग पहुंच चुके हैं। हालांकि, इनकी संख्या में कुछ कमी देखी जा रही है। इसका उदाहरण प्रदेश सरकार द्वारा दिल्ली से यात्रियों को लाने के लिए भेजी गई बसों का खाली लौटना है। दरअसल, सरकार के पास जो पंजीकरण हुआ है उसमें सबसे अधिक संख्या दिल्ली से वापस लौटने वालों की थी। पहले सरकार इन्हें ट्रेन से वापस लाना चाहती थी लेकिन केंद्र ने यह स्पष्ट कर दिया था कि विशेष ट्रेन केवल 500 किमी से अधिक दूरी पर फंसे यात्रियों को ही वापस लाने के लिए लगाई जाएंगी। ऐसे में सरकार ने दिल्ली में पहले चरण में तीन हजार लोगों को वापस लाने के लिए 100 बसें भेजीं। इनमें से पहले दिन 25, दूसरे दिन 37 और तीसरे दिन 21 बसों के लायक ही यात्री मिल पाए। दो बसों में चिकित्सकीय उपकरण लाए गए और शेष 15 बसें खाली वापस लौटी।
दूसरी तरफ, प्रदेश से दूसरे राज्यों के लोगों को लगातार भेजा जा रहा है। अभी तक 53 हजार लोगों ने परिवार सहित वापस जाने के लिए पंजीकरण कराया था। इसके सापेक्ष अभी तक 56025 लोगों को उनके गृह राज्यों को भेजा जा चुका है। गुरुवार को भी देहरादून से रायबरेली और अररिया के लिए स्पेशल ट्रेन भेजी गई।
इन राज्यों से वापस पहुंचे लोग
दिल्ली- 64039, उत्तर प्रदेश- 26736, हरियाणा- 24447, महाराष्ट्र – 11817, पंजाब – 9944, चंडीगढ़ – 9843, राजस्थान- 9080, गुजरात- 8024, कर्नाटक- 5835 व अन्य राज्य 4158 राज्य के भीतर 130511 गए दूसरे जिलों में प्रदेश में अभी तक 130511 लोग एक-दूसरे जिलों में गए हैं। इनमें से 63996 अपने गृह जिलों में वापस आए हैं। इनमें सबसे अधिक 16270 चमोली, 12263 रुद्रप्रयाग व 7755 पौड़ी वापस आए हैं। वहीं 66515 दूसरे जिलों में गए हैं। सबसे अधिक 15869 देहरादून, 14559 हरिद्वार और 13345 लोग पौड़ी से अपने गृह जिलों को गए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!