प्रदेश में बारिश-भूस्खलन से भारी नुकसान

Spread the love

-चम्पावत में मलबा गिरने से कार और कैंटर गहरे नाले में समाए, 6लोग घायल
– नैनीताल घूमने आए गुड़गांव के दंपति की कार पर गिरा बोल्डर, हादसे में पति की मौत
देहरादून। उत्तराखंड में लगातार चौथे दिन जारी बारिश-भूस्खलन ने भारी नुकसान पहुंचाया है। लोहाघाट के बाराकोट में जहां नदी के तेज उफान में एक महिला बह गई है। वहीं, चम्पावत में पहाड़ी से मलबा गिरने से एनएच पर खड़ी कार और कैंटर दस मीटर गहरे नाले में समा गए। हादसे में छह लोग घायल हो गए। नैनीताल में बजून के पास गुड़गांव निवासी दंपति की कार पहाड़ी से गिरे बोल्डर की चपेट में आ गया। हादसे में पति की मौत हो गई, जबकि पत्नी को गंभीर हालत में हल्द्वानी रेफर किया गया है। मंगलवार को प्रदेश में 347 सड़कें बंद होने से पहाड़ से मैदान तक जनजीवन ठहर गया।
चम्पावत के कोतवाल शांति कुमार के अनुसार मंगलवार अपराह्न करीब पौने दो बजे बनलेख गांव में एकाएक करीब 30 मीटर ऊंची पहाड़ी से बड़ी मात्रा में मलबा और पानी एनएच पर आ गया। मलबे की चपेट में आने से एनएच पर खड़ा कैंटर और कार करीब दस मीटर गहरे नाले में समा गई। हादसे में कार सवार एक ही परिवार के खीम सिंह (41) पुत्र देव सिंह, निवासी बैड़ा, गुरना पिथौरागढ़, प्रिया (37) पत्नी खीम सिंह, तनिशा (13), करन (11) और नायरा (2) को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया।
जबकि कैंटर चालक कृष्ण राम (42) पुत्र प्रह्लाद राम, निवासी च्यूरानी, बाराकोट, चम्पावत मामूली रूप से घायल हो गए। वहीं, लोहाघाट के विकासखंड बाराकोट में मंगलवार शाम पड़ासोंसेरा की गीता देवी (35) पत्नी नारायण सिंह घास काटकर लौटते वक्त रुय्नी गाड़ पार करते समय तेज बहाव में बह गई। सूचना पर गांव वालों ने महिला की तलाश शुरू की पर उसका पता नहीं चल सका। नैनीताल में 21/530 हैरीटेज सिटी, एमजी रोड, गुरुग्राम (हरियाणा) निवासी हनुमंत तलवार (56) और हेमा तलवार निजी कार से घूमने के लिए नैनीताल आ रहे थे। शाम करीब पांच बजे कालाढूंगी-नैनीताल रोड में बजून के पास पहाड़ से एक विशाल बोल्डर तलवार दंपति की कार के ऊपर आ गिरा। हादसे में हनुमंत की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि मीना को गंभीर हालत में हल्द्वानी रेफर किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!