साढ़े तीन साल का प्रायश्चित कौन करेगा? : हरीश रावत

Spread the love

देहरादून। हर की पैड़ी पर गंगा को स्कैप चैनल के मुद्दे पर खुद पर सवाल उठने पर कांग्रेस राष्ट्रीय महासचिव पूर्व सीएम हरीश रावत ने सरकार पर पलटवार किया
है। रावत ने कहा कि, मेरे फैसले पर गंभीर सवाल उठाए जा रहे हैं। लेकिन, पिछले साढ़े तीन साल से तो प्रदेश में भाजपा ही सरकार है। ऐसे में मां गंगा को लेकर
सरकार का क्या प्रायश्चित होगा ? बिल्डरों को साढे तीन साल तक फायदा पहुंचाने के लिए तो भाजपा प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत को प्रदेश की जनता से माफी
मांगनी चाहिए। स्कैप चैनल के आदेश को अपनी गलती मानते हुए पूर्व सीएम ने इसे निरस्त करने की पैरवी की है। सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने बीते रोज रावत के
इस बयान को उनका प्रायश्चित ठहराया था।
तो, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने कहा था कि रावत ने बिल्डर्स का फायदा पहुंचाने के लिए ही यह निर्णय किया था। आज रावत ने कहा कि संत-महात्मा तो पिछले साढ़े
तीन साल इस स्कैप चैनल नाम हटाने की मांग कर रहे हैं। साढे़ तीन साल से तो मेरी सरकार नहीं है। तो इन साढ़े तीन साल का प्रायश्चित कौन करेगा? इसी प्रकार
बिल्डर को साढ़े तीन साल से कौन फायदा पहुंचा रहा है ? रावत ने कहा भाजपा प्रदेश अध्यक्ष को तो खुद प्रदेश की जनता से माफी मांगनी चाहिए।
दूसरी तरफ, रावत ने इंदिरा कालोनी हादसे को आपराधिक स्तर की लापरवाही का नतीजा ठहराया। कहा कि इसके जिम्मेदार लोगों को दण्ड दिया जाना चाहिये। इस
हादसे को आपदा का हिस्सा मानकर, आपदा के नियमों के अंतर्गत मदद दी जाय।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!