हीन भावना को जड़ से उखाड़ना ही सच्ची आजादी है: शाह

Spread the love
Backup_of_Backup_of_add

नई दिल्ली, एजेंसी। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने शुक्रवार को कहा कि भारत अपनी आजादी के 75वें साल में एक लंबी छलांग लगाने के लिए तैयार है और भारत को अब महान राष्ट्र बनने से कोई नहीं रोक पायेगा। उन्होंने कहा कि विदेशी शक्तियां भारत पर राज करने में इसलिए सफल हुई कि वह हमारे अंदर हीन भावना पैदा करने में सफल रही। आजादी का सही मायने यही होगा कि हम इस हीन भावना को जड़ से उखाड़ देंके।
गृह मंत्री शाह आजादी की 75वीं वर्षगांठ को मनाने के लिए दूरदर्शन द्वारा बनाए गए एक मेगा धारावाहिक श्स्वराज – भारत के स्वतंत्रता संग्राम की समग्र गाथाश् का शुभारंभ करने के बाद संबोधित कर रहे थे। इस 75 एपिसोड के मेगा शो में भारतीय इतिहास से जुड़ी भूली जा चुकी कहानियों को दिखाया जाएगा। इसका प्रसारण दूरदर्शन पर 14 अगस्त से हिंदी और स्थानीय भाषाओं में किया जाएगा।
शाह ने इस दौरान हैरानी जताते हुए कहा कि भारत स्वतंत्रता की शताब्दी की ओर बढ़ रहा है और भारत में स्वराज के सच्चे आदर्शों को स्थानीय भाषाओं, संस्ति और इतिहास की रक्षा किए बिना नहीं पाया जा सकता है। उन्होंने कहा कि स्वराज का असली मतलब यह है कि भारत को उसी तरह चलाना है जैसे भारतीय इसको चलाना चाहते हैं। इसमें हमारी स्थानीय भाषाएं, धर्म, संस्ति के साथ-साथ हमारी कालएं भी शामिल हैं।
शाह ने कहा कि आजादी के बाद से ही भारत की शासन-व्यवस्था काफी बेहतर रही है और इसने अनेकों उपलब्धियां हासिल की है। उन्होंने कहा कि केंद्र की सत्ता में जो भी आया है उसने देश को आगे बढ़ाया है। हम सभी का सम्मान करते हैं। उन्होंने पूछा कि हम शताब्दी साल में अपनी भाषाओं की रक्षा नहीं कर सकते तो क्या हम असल स्वराज्य के लक्ष्य को प्राप्त कर सकते हैं।
केंद्रीय गृह मंत्री ने कहा कि भारतीय सभ्यता कई हजार सालों से है और देश को इसकी संस्ति के बारे में बताने के लिए किसी दूसरे गैर सरकारी संगठन (छळव्) की कोई जरूरत नहीं है। उन्होंने कहा, श्जिन्होंने हम पर राज किया उन्होंने हमारे देश के सबसे बढ़िया सिस्टम को बर्बाद कर दिया। शासन करने वाले जानते थे कि हम उनसे काफी बेहतर हैं इसलिए उन्होंने हम सभी में हीन भावना पैदा की और हम पर राज किया। हमारे ऊपर राज करने वाले लोगों ने गलत अफवाह फैलाई कि हम अनपढ़ थे। उन्होंने पूछा कि इस देश ने विश्व को गीता, वेद, जीरो और एस्ट्रोनमी दिया वह अनपढ़ कैसे हो सकता है। संबोधन के दौरान शाह ने उम्मीद जताई की टीवी सीरियल स्वराज देश को हीन भावना से मुक्ति दिलाएगा और युवाओं को देश के इतिहास पर गौरवान्वित कराएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!