शैक्षणिक उपलब्धियों के साथ महिला सशक्तिकरण पर रहा फोकस

Spread the love
Backup_of_Backup_of_add

देहरादून। दून विश्वविद्यालय की कुलपति प्रोफेसर डक्टर सुरेखा डंगवाल का दो साल का कार्यकाल विवि को अकादमिक श्रेष्ठता की ऊंचाइयों पर ले जाने के साथ ही महिला सशक्तिकरण के लिए समर्पित रहा। इस दौरान उन्होनें कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए। गुरुवार को उन्होंने विवि में अपने दो साल सफलता से पूरे कर लिए। विवि के स्कूल आफ मैनेजमेंट के एचओडी प्रो़ एचसी पुरोहित ने बताया कि उनके कार्यकाल में विवि में उत्ष्ट शिक्षण, गुणवत्ता युक्त शोध कार्यों को संचालित करवाने के साथ- साथ विद्यार्थियों को सामाजिक दायित्व का बोध कराने के उद्देश्य से कई कार्यक्रम पिछले दो वर्षो में संचालित किए गए। राज्य की लोक कला संस्ति के संवर्धन व संरक्षण के लिए विश्वविद्यालय में स्नातकोत्तर स्तर पर थिएटर व लोक कला परफार्मिंग आर्ट पाठ्यक्रम प्रारंभ किया गया। हिमालय का संरक्षण व नागरिक की समस्याओं के अध्ययन के लिए डक्टर नित्यानंद हिमालय अध्ययन व शोध केंद्र सुचारू रूप से प्रारंभ कराया। महिला वैज्ञानिकों के लिए दो दिवसीय साइंस टेक्नोलजी इंजीनियरिंग मैथमेटिक्स (स्टेम) के तहत अंतरराष्ट्रीय सेमिनार का आयोजन भी कराया। महिला सशक्तिकरण के लए संवर्धनी न्यास नई दिल्ली तथा एसएनडीटी महिला विश्वविद्यालय मुंबई के साथ मिलकर दो दिवसीय अंतरराष्ट्रीय संगोष्ठी पिछले वर्ष नवंबर माह में आयोजित कराई गई। जी- 20 की अध्यक्षता को लेकिर श्यूनिवर्सिटी कनेक्टश् कार्यक्रम के तहत राज्य से केवल दून विवि का चयन हुआ। पहली बार विवि के दीक्षां समारोह में राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने भाग लिया और मातृभूमि के विकास, मातृभाषा के उन्नयन के साथ मातृशक्ति के सम्मान के भाव नई पीढ़ी में जागृत करने का आह्वान किया ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!