जल्द शुरू होगा अस्थाई गौशाला का निर्माण, बेसहारा पशुओं से मिलेगी निजात

Spread the love

जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार। सड़कों पर आवारा पशुओं से आए-दिन होने वाली दुर्घटनाओं व आमजन को हो रही परेशानी से निजात दिलाने के लिए नगर निगम कीे ओर से काशीरामपुर तल्ला में अस्थाई गाौशाला का निर्माण किया जायेगा। नगर निगम के अधिकारियों का कहना है कि जल्द ही अस्थाई गौशाला का निर्माण कार्य शुरू हो जाएगा।
बेसहारा मवेशियों से लोग इन दिनों काफी परेशान है। नगर में बेसहारा मवेशी बीच सड़कों पर विचरण करते है। वहीं खेतों में भी मवेशी प्रवेश कर जाते हैं, जिससे फसलों का भी नुकसान हो रहा हैं। सैकड़ों की संख्या में मवेशी विचरण करते रहते हैं। बेसहारा मवेशियों से किसान और नगरवासी भी काफी परेशान है। इन पशुओं के कारण शहर में हर समय जाम की स्थिति बनी रहती है। वहीं दुघर्टना का भी खतरा बना रहता है। विभिन्न सामाजिक संगठन सहित स्थानीय लोग पिछले काफी समय से इन पशुओं से निजात दिलाने की मांग कर रहे है। पूर्व में नगर निगम की ओर से काशीरामपुर तल्ला में एक अस्थाई गौशाला का निर्माण किया गया, लेकिन वहां पशुओं को रखने की अधिक क्षमता न होने से सड़कों पर बेसहारा पशुओं का जमावड़ा लगा रहता है। सैकड़ों की संख्या में पशुओं के झुंड के झुंड नगर व किसानों के खेतों पर विचरण करते हुए दिखाई दे रहे हैं। यह आवारा पशु खेतों में घुसकर फसले चरते हैं। इससे किसानों को नुकसान हो रहा है। वहीं नगर के चौराहों व रास्तों में मवेशियों के विचरण करने से आवागमन में भी वाधा उत्पन्न होती है। नगरवासियों ने कई बार अधिकारियों से शिकायत भी की, लेकिन अब तक कोई कदम नहीं उठाए गए हैं। आवारा पशु लोगों के लिए समस्या बने हुए है।
बता दें कि नगर निगम की ओर से लगभग छ: माह पूर्व गौशाला निर्माण के लिए टेंडर भी निकाल दिया गया था, लेकिन नगर निगम को जमीन हस्तांतरित न होने से गौशाला का निर्माण कार्य शुरू नहीं हो पाया। नगर आयुक्त पीएल शाह ने बताया कि जिलाधिकारी पौड़ी गढ़वाल द्वारा काशीरामपुर तल्ला में अस्थाई गौशाला बनाने की अनुमति दी गई है। जल्द ही अस्थाई गौशाला का निर्माण कार्य शुरू करा दिया जाएगा। शासन की ओर से गौशाला निर्माण के लिए 74 लाख 79 हजार रूपये स्वीकृत किये गये है। जिसमें से करीब 29 लाख रूपये निगम को मिल गये है। उन्होंने बताया कि काशीरामपुर तल्ला में 80 से 100 जानवरों को रखने के लिए अस्थाई गौशाला बनाई जाएगी।

फसलों को नुकसान पहुंचा रहे मवेशी
कोटद्वार। आवारा मवेशी खेती में खड़ी फसलों को नुकसान पहुंचा रहे हैं। बालासौड़, पदमपुर, शिवपुर, धु्रवपुर, लालपुर, सनेह, कुम्भीचौड़, रतनपुर सहित भाबर क्षेत्र में आवारा मवेशी फसलों को क्षति पहुंचा रहे हैं। जिसके चलते किसानों की चिंताएं बढ़ रही हैं। क्षेत्र के किसान लंबे से आवारा मवेशियों से निजात दिलोने की मांग कर रहे है। किसान विजय ध्यानी, संदीप नेगी ने बताया कि किसानों की गेहूं, जौ, मटर, सरसों आदि की फसलें खेतों में खड़ी है, परन्तु आवारा पशुओं से किसानों को फसलों की रखवाली करना मुश्किल हो गया है। क्षेत्र में सैकड़ों की संख्या में आवारा मवेशी घूम रहे हैं जो किसानों की नाक में दम किए हुए हैं। किसानों ने कर्ज लेकर अपनी बुआई की है लेकिन फसल की सुरक्षा करना मुश्किल हो रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!