कृषि कानून को लेकर कांग्रेस और अन्य दल भ्रम फैलाकर अराजकता फैला रहे : निशंक

Spread the love

हरिद्वार। केंद्रीय शिक्षा मंत्री डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक ने कहा कि मोदी सरकार किसानों के हित में कृषि कानून लेकर आई है। कांग्रेस और अन्य दल भ्रम फैलाकर अराजकता फैला रहे हैं। कहा कि सरकार ने मंडी और एमएसपी को नहीं बल्कि कृषि कानून लाकर बिचौलियों को खत्म किया है, ताकि किसानों की आय बढ़े और उनके जीवन में सुधार आ सके। मंगलवार को जगजीतपुर स्थित भाजपा के जिला कार्यालय पहुंचे केंद्रीय मंत्री डॉ. निशंक ने पत्रकारों से वार्ता करते कृषि बिल के फायदे गिनाये। कहा कि नए कृषि कानून पूरी तरह से किसानों के हित में हैं। इन कृषि कानूनों से किसानों की आय बढ़ेगी और उनके जीवन स्तर में बदलाव आएगा। कहा कि एमएसपी और मंडी को लेकर भ्रम फैलाया जा रहा है। विपक्ष का आरोप है कि सरकार एमएसपी और मंडी व्यवस्था ख़त्म करने जा रही है जबकि कानून में कहीं ऐसा प्रावधान नहीं है। इस कानून से किसानों को बिचौलियों से राहत मिलेगी। किसान जहां चाहे अपनी फसल बेच सकता है। इसके लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य का जो प्रावधान है वह पूर्व की भांति जारी रहेगा।कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी किसानों सहित देश के हर वर्ग के उत्थान के लिए प्रतिबद्ध हैं। कृषि कानूनों को लेकर कांग्रेस और विपक्षी पार्टियों के विरोध को भी उन्होंने राजनीति से प्रेरित बताया। कहा कि कांग्रेस के मंत्री ने वर्ष 2012 में खुद संसद में किसानों को बिचौलियों से निजात दिलाने की बात कही थी। वर्तमान में जब मोदी सरकार किसानों के हित में कृषि कानून लेकर आई है तो कांग्रेस एवं अन्य दल भ्रम फैलाकर अराजकता फैला रहे हैं। कहा कि मोदी सरकार हमेशा से किसानों को हितैषी रही है। कहा कि इसी क्रम में सरकार तीन कृषि कानून लेकर आई है, ताकि किसानों की आर्थिक स्थिति ठीक की जा सके। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का एक ही लक्ष्य है कि किसानों की आय दोगुनी हो।
भ्रम पैदा कर रही कांग्रेस: केंद्रीय मंत्री ने कहा कि कांग्रेस बिना पढ़े लोगों में राजनीतिक लाभ के लिये भ्रम पैदा कर रही है। कांग्रेस ने देश और किसानों के लिये कभी कुछ नहीं किया और अब जब मोदी सरकार देश के हर तबके के साथ किसानों को भी आर्थिक रूप से मजबूत करने का काम कर रही है तो कांग्रेस किसानों को झूठ बोल कर भ्रम पैदा कर रही है। उन्होंने कहा कि किसानों के साथ अगर कोई खेती को लेकर अनुबंध करता है तो वह किसानों की जमीनों को अधिकृत नहीं कर सकता है। किसान जब चाहे अनुबंध रद कर सकता है। कानून में प्रावधान है कि निश्चित समय सीमा के अंदर किसानों को भुगतान सुनिश्चित किया गया है। जबकि कांग्रेस किसानों को जमीन अधिग्रण की झूठी अफवाह फैला रही है।
माफी मांगे कांग्रेस : निशंक ने कहा कि भ्रम फैलाने पर कांग्रेस को किसानों के साथ ही जनता से भी माफी मांगनी चाहिए। कहा कि जब से मोदी सरकार सत्ता में आई है किसानों को फसलों का उचित दाम दिया जा रहा है। यह ऑन रिकॉड है कोई भी देख सकता है।
पहली बार पहुंचे भाजपा कार्यालय: भाजपा के नये कार्यालय में केंद्रीय मंत्री निशंक पहली बार पहुंचे हैं। उनके हरिद्वार पहुंचने पर विधायक आदेश चौहान, सुरेश राठौर, प्रदीप बत्रा, देशराज कर्णवाल, जिलाध्यक्ष डॉ. जयपाल सिंह चौहान और ओम प्रकाश जमदग्नि विकास तिवारी समेत अन्य भाजपा नेताओं और कार्याकर्ताओं ने उनका स्वागत किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!