कूड़ा निस्तारण के लिये ट्रोमल मशीन का ट्रायल शुरू

Spread the love

जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार। कोटद्वार में लगातार नगर निगम शहर को स्वच्छ करने को लेकर नई-नई तकनीक अपना रहा है। अक्टूबर माह में कूड़ा निस्तारण को लेकर नगर निगम ने बायो रेमिडिएशन मशीन का प्रयोग शुरू किया था। यह प्रयोग काफी सफल भी हो रहा है, लेकिन इस मशीन से तेजी से कूड़ा निस्तारण नहीं होने के कारण नगर निगम ने नई तकनीक अपनाने की योजना बनाई। निगम ने ट्रोमल मशीन का ट्रायल शुरू करा दिया है। ट्रायल सफल होने के बाद निगम द्वारा या तो मशीन को खरीद लिया जाएगा या किसी संस्था को टेंडर के माध्यम से कूड़े का निस्तारण कराया जाएगा। अगर योजना सफल रही तो स्थानीय लोगों को कूड़े की समस्या से निजात मिल जाएगी। वहीं बायो रेमिडिएशन मशीन द्वारा अक्टूबर माह से कूड़े की छंटाई हो रही है।
नगर निगम के चालीस वार्डों से प्रतिदिन 60 से 65 टन कूड़े को एकत्रित कर खोह नदी किनारे बनें ट्रेंचिंग ग्राउण्ड में एकत्रित किया जाता है। लेकिन इस कूड़ा निस्तारण के लिए नगर निगम के पास कोई व्यवस्था नहीं थी। ऐसे में ट्रेंचिग ग्राउंड में लगातार कूड़े का पहाड़ बन गया। ट्रेंचिग ग्राउण्ड में कूड़ा जमा होने से स्थानीय लोगों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। यहां के लोग पिछले काफी समय से कूड़े की समस्या से निजात दिलाने की मांग कर रहे थे। लोगों की परेशानी को देखते हुए नगर निगम ने कूड़ा निस्तारण के लिए योजना बनाई। योजना के अनुसार अक्टूबर 2020 में कूड़ा निस्तारण के लिए बायो रेमिडिएशन मशीन स्थापित की गई और अब ट्रोमल मशीन का ट्रायल शुरू कर दिया है। ट्रेचिंग ग्राउण्ड में मशीनें स्थापित होने से लोगों में कूड़े की समस्या से निजात मिलने की आश जगी है।
नगर आयुक्त पीएल शाह ने बताया कि जब से नगर पालिका परिषद कोटद्वार में अस्तित्व में आई तब से कूड़ा निस्तारण पर विचार नहीं किया गया। वर्तमान में कूड़ा निस्तारण के लिए बॉयो रेमिडिएशन मशीन स्थापित की गई। इस मशीन की क्षमता प्रतिदिन 40 से 50 टन कूड़ा निस्तारण की है, लेकिन कर्मचारी दक्ष नहीं होने से पर्याप्त मात्रा में कूड़ा निस्तारण नहीं हो पा रहा था। प्रतिदिन 30 से 35 टन कूड़ा निस्तारण ही हो पा रहा था। ट्रेचिंग ग्राउण्ड में कूड़े की मात्रा बहुत अधिक है, इसलिए ट्रोमल मशीन का ट्रायल शुरू कर दिया है। इसी मशीन का एक माह तक ट्रायल किया जायेगा। इस मशीन की क्षमता प्रतिदिन 60 टन कूड़ा निस्तारण करने की है। उन्होंने बताया कि बॉयो रेमिडिएशन और ट्रोमल मशीन से प्रतिदिन करीब 150 टन कूड़े का निस्तारण हो सकेगा। जबकि निगम के चालीस वार्डों से प्रतिदिन 60 से 65 टन कूड़ा उठाया जाता है। ट्रोमल मशीन का ट्रॉयल के तौर पर लगाई गई है। मशीनें दो शिफ्टों में चलाई जायेगी। प्रयोग सफल होने पर ट्रोमल मशीन को खरीदकर ट्रेंचिंग ग्राउण्ड में स्थापित किया जायेगा। नगर आयुक्त पीएल शाह ने बताया कि नगर निगम कूड़ा निस्तारण के लिए प्रतिबद्ध है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!