मूलभूत सुविधाओं में सुधार न होने पर दी चुनाव बहिष्कार की चेतावनी

Spread the love

जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार। समाजसेवी लीलानंद लखेड़ा जनकल्याण समिति ने रिखणीखाल ब्लॉक की मंदालघाटी की तलहटी में बसे गांवों में संचार सेवा में सुधार की मांग की है। समिति ने इस संबंध में प्रधानमंत्री सहित मुख्यमंत्री और राज्यसभा सांसद अनिल बलूनी को ज्ञापन भेजा है। समिति के सदस्यों ने कहा कि अगर मंदाल घाटी में संचार, इंटरनेट सुविधा के साथ शिक्षा व स्वास्थ्य व्यवस्था में जल्द ही सुधार नहीं हुआ तो क्षेत्रवासी आगामी 2022 विधानसभा और 2024 लोकसभा चुनाव का बहिष्कार करेंगे।
महानन्द ध्यान ने प्रधानमंत्री को भेजे ज्ञापन में कहा कि देश में संचार क्रांति का युग चल रहा है। मोबाइल में फोर-जी के बाद फाइव-जी की सेवाएं शुरू करने की तैयारियां चल रही हैं, लेकिन मंदालघाटी की तलहटी में बसे रिखेड़ा, मुंडियाना, जामरी, बसड़ा, तिमलसैंण, बगेड़ा, जुकणिया, बराई, झुण्डई, धामधार, कुमाल्डी, झर्त, कर्तिया, नौदानू, काण्डा, खदरासी आदि गांव के लोग आज भी संचार सुविधा के अभाव में जीने को मजबूर हैं। इंटरनेट सुविधा न होने से लोगों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। उन्होंने कहा कि क्षेत्र में इंटरनेट सुविधा न होने की वजह से कोरोनाकाल में छात्रों की ऑनलाइन पढ़ाई नहीं हो पाई। लेकिन शासन-प्रशासन इस ओर ध्यान देने को तैयार नहीं है। ज्ञापन प्रेषित करने वालों में महानन्द ध्यानी, सुरेंद्र सिंह नेगी, कृपाल सिंह, गब्बर सिंह रावत, चत्तर सिंह नेगी, किशोर देवरानी, अनिल कुमार, नंदन सिंह रावत, आनन्द मणि, नरेंद्र कुमार, जगदीश चंद्र ध्यानी, रघुवीर सिंह पटवाल, प्रेम सिंह रावत, आनन्द सिंह नेगी, चंद्रा दत्त आदि शामिल रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!