-राज्य में बेहतर औद्योगिक निवेश का माहौल तैयार किया जाए: सीएस

Spread the love

देहरादून। मुख्य सचिव ओमप्रकाश ने उत्तराखंड उद्यम एकल खिड़की सुगमता और अनुज्ञापन अधिनियम-2012 के तहत राज्य प्राधिकृत समिति की बैठक ली। इस दौरान 100.89 करोड़ रुपये के चार निवेश प्रस्तावों को सैद्धांतिक सहमति दी गई। बैठक में मुख्य सचिव ने ये भी निर्देश दिए कि राज्य में बेहतर औद्योगिक निवेश का माहौल तैयार किया जाए। मुख्य सचिव ओमप्रकाश की अध्यक्षता में सचिवालय सभागार में इस बैठक का आयोजन किया गया। इस दौरान समिति ने कुल 100.89 करोड़ रुपये के चार निवेश प्रस्तावों को मंजूरी दी। इन निवेश प्रस्तावों सेलाकुई(देहरादून) में फॉर्मास्यूटिकल और बॉटनिकल प्रोडक्ट निर्माण से सबंधित एचएफए फॉर्मयुलेशन प्राइवेट लिमिटेड(25 करोड़ रुपये), काठगोदाम(नैनीताल) में शारदा हॉस्पिटेलिटी एलएलपी(17.44 करोड़), खैराड़ पट्टी लालूर (टिहरी गढ़वाल) में किमाया हिमालय बेवरेज एलएलपी(46 करोड़ रुपये) के और सौर विद्युत उत्पादन से जुड़ी रायसन एनर्जी प्राइवेट लिमिटेड सतपुली (पौड़ी)(12.45 करोड़ रुपये) शामिल हैं। बैठक में मुख्य सचिव ने पार्टिकल और फाइबर बोर्ड बनाने वाली कंपनी ऊषा एल्युमीनियम प्रा. लि. द्वारा काशीपुर (ऊधमसिंहनगर) में प्रस्तावित निवेश प्लांट को लेकर निर्देश दिए कि अगर इन निवेश प्रस्तावों के लिए सड़क की वांछित चौड़ाई के अनुरूप भूमि उपलब्ध हो जाती है तो इसको सैद्धांतिक सहमति पर विचार किया जा सकता है। साथ ही उन्होंने इस निवेश प्रस्ताव को अगली बैठक में भूमि के प्रविधान को पूरा करवाते हुए चर्चा के लिए रखने के निर्देश दिए। इस दौरान मुख्य सचिव ने उद्योग विभाग और अन्य सम्बन्धित विभागों के अधिकारियों को निर्देश दिए कि राज्य में बेहतर औद्योगिक निवेश का माहौल तैयार करने और राज्य की प्रकृति के अनुकुल निवेशकों को आकर्षित करने के लिए लगातार गंभीरता से कार्य किए जाएं। उन्होंने विभिन्न विभागों को उनके स्तर से की जाने वाली विभिन्न औपचारिकताओं और प्रक्रिया को समय से पूरा करते हुए तेजी से कार्य संपादित करने के निर्देश भी दिए। बैठक में सचिव उद्योग सचिन कुर्वे, प्रभारी सचिव राजस्व सुशील कुमार, अपर सचिव नीरज खैरवाल, नेहा वर्मा, विनोद कुमार सुमन, निदेशक उद्योग सुधीर नौटियाल सहित संबंधित विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!