रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह बोले, सीमा व तटीय क्षेत्रों के 1100 स्कूलों में दी जाएगी एनसीसी की ट्रेनिंग

Spread the love

नई दिल्ली, एजेंसी। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने गुरुवार को बताया कि सरकार ने सीमा व तटीय इलाकों में 1,100 से ज्यादा स्कूलों की पहचान की है जहां छात्रों को जल्द ही राष्ट्रीय कैडेट कोर के तहत प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा।
एक एनसीसी र्केप को संबोधित करते हुए रक्षा मंत्री ने कहा, हमारे प्रधानमंत्री ने फैसला किया है कि एनसीसी का विस्तार किया जाना चाहिए। साथ ही सीमावर्ती और तटीय इलाकों में एनसीसी का प्रशिक्षण प्रदान किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि पहले एनसीसी में महज 28 फीसद कैडेट लड़कियां थीं जिनकी संख्या अब बढ़कर कुल कैडेट्स का 43 फीसद हो गई है।
रक्षा मंत्री ने कहा कि एनसीसी में विभिन्न श्रेणियों में दिए जा रहे 143 पुरस्कारों को बढ़ाकर 243 कर दिया गया है। इसके साथ ही यह राशि भी बढ़ा दी गई है। सिंह ने कहा कि भारत वसुधैव कुटुम्बकम के विचार में विश्वास करता है यही कारण है कि यह अन्य देशों को कोरोना वैक्सीन प्रदान कर रहा है।
उन्होंने कहा कि वसुधैव कुटुम्बकम का विचार भारत से पूरी दुनिया में चला गया है। यह विचार पूरी दुनिया को एक परिवार मानता है। यही कारण है कि जब हमने टीका बनाया, तो हमने इसे अपने पड़ोसी देशों को भी प्रदान करने का फैसला किया। जरूरत पड़ी तो हम अन्य देशों को भी वैक्सीन प्रदान करेंगे। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि युवाओं के समर्थन से ही आत्मनिर्भर भारत का सपना संभव है। हम युवाओं को इतना मजबूत और सक्षम बना रहे हैं कि वे भी एक सफल भविष्य का निर्माण कर सकें। एनसीसी इस सब में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभा रही है।
मालूम हो कि करीब एक महीने तक चलने वाले इस एनसीसी र्केप में सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों से कुल एक हजार कैडेट्स हिस्सा ले रहे हैं जिनमें 380 लड़कियां हैं। यह र्केप 28 जनवरी तक चलेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!