सहायता काउंटर लगाने को लेकर महाविद्यालय प्रशासन व छात्र नेताओं में ठनी

Spread the love

चमोली। श्रीदेव सुमन विश्व विद्यालय परिसर में सहायता काउंटर लगाने को लेकर छात्र नेताओं व महाविद्यालय प्रशासन में ठन गई है। सहायता काउंटर हटाने को लेकर हुई बहस के दौरान छात्र अनुशासन समिति की ओर से अभद्रता का आरोप लगा रहे हैं। वहीं महाविद्यालय प्रशासन मामले में कोविड के नियमों के पालन की बात कह रहा है। छात्र नेताओं ने विश्व विद्यालय परिसर गेट पर धरना देकर विरोध दर्ज किया। छात्र नेता विश्व विद्यालय परिसर में नए आ रहे छात्र-छात्राओं के प्रवेश में सहायता के लिए काउंटर लगा रहे थे। प्रतिवर्ष छात्र नेता अपनी नेतागिरी चमकाने व अपने संगठनों से नए छात्रों को जोड़ने के लिए यह प्रयास करते हैं। इस वर्ष भी जैसे ही महाविद्यालय खुले तो छात्र नेताओं ने काउंटर लगाकर नए छात्रों की मदद शुरू की। इस दौरान कोविड के चलते भीड़ न हो महाविद्यालय प्रशासन ने छात्र नेताओं को इससे रोका। पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष अमित मिश्रा का कहना है कि महाविद्यालय प्रशासन की ओर से नए छात्रों की मदद के लिए शुरू किए गए सहायता काउंटर को लगाने से इन्कार करते हुए इसे हटाने के दौरान मौजूद छात्र नेताओं से गलत व्यवहार किया गया, जो महाविद्यालय में प्रशासन की मनमानी को प्रदर्शित करता है। उन्होंने कहा कि महाविद्यालय प्रशासन की इस मनमानी के खिलाफ आंदोलन शुरू किया गया है। छात्रों की ओर से महज सहायता काउंटर के संचालन की मांग की गई है। लेकिन महाविद्यालय प्रशासन मांग को लेकर अड़ियल रवैया अपना रहा है, जिसके चलते महाविद्यालय के मुख्य द्वार पर धरना दिया जा रहा है।
कोविड की रोकथाम के लिए प्रशासन की जारी गाइड लाइन के चलते महाविद्यालय में सहायता केंद्र लगाने से इन्कार किया गया है। महाविद्यालय में ऑनलाइन प्रवेश प्रक्रिया संचालित की जा रही है, ऐसे में सहायता काउंटर उपयोगी नहीं है। अनुशासन समिति की ओर से सामान्य रूप से इस विषय में छात्रों से वार्ता की गई है, अभद्रता के आरोप निराधार हैं। -मनोज उनियाल, प्रभारी प्राचार्य

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!