शिक्षा मंत्री निशंक का ऐलान, 4 मई से शुरू होंगी सीबीएसई 10वीं 12वीं की परीक्षा, नतीजे 15 जुलाई तक

Spread the love

नई दिल्ली, एजेंसी। केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने सीबीएसई 10वीं 12वीं परीक्षा 2021 की तारीखों का ऐलान कर दिया है। सीबीएसई 10वीं 12वीं की परीक्षा 4 मई से शुरू होंगी और 10 जून तक चलेंगी। प्रैक्टिकल एग्जाम 1 मार्च से होंगे। परीक्षाओं के परिणाम 15 जुलाई तक जारी हो जाएंगे। दोनों कक्षाओं की विस्तृत डेटशीट जल्द ही जारी कर दी जाएगी। निशंक ने कहा, मैं विद्यार्थियों को शुभकामनाएं देता हूं कि वह पूरी ताकत और आत्मबल के साथ परीक्षा की तैयारी करें। उनके पास काफी समय है। सीबीएसई ने भी 30 फीसदी सिलेबस कम कर दिया है। आप सभी बिना किसी संकोच के एग्जाम दें। पूरा तंत्र विद्यार्थियों के साथ जुटा हुआ है।
घोषणा के दौरान उन्होंने कहा कि हम आगामी सत्र की तैयारी में जुटे हुए हैं। अनलाइन क्लास और टीवी चौनलों से सभी बच्चों तक शिक्षा पहुंचा रहे हैं। कोरोना के समय छात्रों ने पूरे मनोबल के साथ परीक्षाएं दीं और हम सबने मिलकर साल बर्बाद होने से बचाया। चुनौती के समय विद्यार्थी और शिक्षक डटे हुए हैं।
आपको बता दें कि निशंक यह पहले ही साफ कर चुके थे कि बोर्ड परीक्षाएं फरवरी माह तक नहीं होंगी। सीबीएसई डेटशीट के ऐलान के साथ स्टूडेंट्स की कंफ्यूजन दूर हो गई है और अब वह तैयारी की रणनीति बना सकेंगे।
सीबीएसई ने कहा है कि सभी स्कूलों को प्रैक्टिकल परीक्षाएंध्प्रोजेक्टध्आंतरिक मूल्यांकन जैसे कार्य उस डेट से पहले-पहले पूरे कर लेने हैं जब उस कक्षा की परीक्षाएं खत्म हो रही हैं।
सीबीएसई ने कहा है कि समय-समय पर आधिकारिक वेबसाइट पर परीक्षा से संबंधित जानकारी दी जाती रहेगी। सोशल मीडिया समेत किसी अन्य प्लेटफर्म पर उपलब्ध जानकारी को तब तक सही नहीं माना जाना चाहिए जब तक कि वह जानकारी बोर्ड की वेबसाइट पर उपलब्ध न हो।
सीबीएसई 10वीं 12वीं परीक्षा की डेटशीट जारी करने से एक दिन पहले बुधवार को निशंक ने छात्रों, अभिभावकों, शिक्षकों और स्कूलों को भरोसा दिलाया कि एग्जाम को लेकर जो भी फैसला लिया जाएगा, वह छात्रों के हित में लिया जाएगा। उन्होंने ट्वीट कर कहा, श्मैं अपने सभी विद्यार्थियों, अभिभावकों, शिक्षकों एवं संस्थानों को आश्वस्त करता हूं कि परीक्षाओं संबंधी सभी निर्णय आपके हित एवं उज्ज्वल भविष्य को ध्यान में रखकर ही लिए जाएंगे।श्
केंद्रीय शिक्षा मंत्री ने कहा कि परीक्षा कोविड-19 प्रोटोकल के तहत आयोजित की जाएगी। केंद्रीय शिक्षामंत्री ने कहा कि छात्र सीबीएसई बोर्ड परीक्षा के लिए इंतजार कर रहे हैं और वर्तमान महामारी की कठिनाइयों के दौरान कई अभिभावकों, शिक्षकों और छात्रों से सलाह लेने के बाद तारीखों का फैसला किया गया है। उन्होंने कहा कि ‘उनके सुझावों और भविष्य में परिस्थितियों को ध्यान में रखते हुए नए साल की पूर्व संध्या पर हम सीबीएसई बोर्ड परीक्षा की तारीखों की घोषणा करेंगे और उनका भ्रम खत्म हो जाएगा।श्
शिक्षामंत्री ने यह भी कहा कि परीक्षा गृह मंत्रालय और स्वास्थ्य मंत्रालय के दिशा-निर्देशों के अनुसार आयोजित की जाएगी। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि परामर्श के आधार पर, दिशा-निर्देश तैयार किए जाएंगे जो आगे स्वास्थ्य मंत्रालय के साथ-साथ गृह मंत्रालय द्वारा तय किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि छात्रों की सुरक्षा सुनिश्चित करना हमारी पहली प्राथमिकता है। पोखरियाल ने कहा कि सरकार सतर्क है और कोविड-19 के नए संस्करण के तनाव से निपटने के सभी उपाय कर रही है। इससे पहले 22 दिसंबर को शिक्षकों से बात करते हुए बताया था कि बोर्ड परीक्षाएं फरवरी 2021 तक नहीं कराई जाएंगी, लेकिन परीक्षाएं रद्द नहीं होगीं।
पिछले वर्ष 10वीं की परीक्षा में करीब 18 लाख और 12वीं की परीक्षा में करीब 12 लाख विद्यार्थियों ने हिस्सा लिया था। 10वीं की परीक्षा में कुल 91़46 फीसदी और 12वीं में 88़78 फीसदी विद्यार्थी पास हुए थे। सीबीएसई हर वर्ष 10वीं और 12वीं कक्षा की परीक्षा के टपरों का भी ऐलान करती है लेकिन वर्ष 2020 की परीक्षा में कोरोना महामारी के चलते बोर्ड ने टपरों का ऐलान नहीं किया था। कोरोना महामारी के चलते कई पेपर नहीं हो सके थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!