ट्रेन्चिंग ग्राउण्ड बना लोगों के लिए समस्या

Spread the love

जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार। नगर निगम के खोह नदी किनारे स्थित ट्रेन्चिंग ग्राउण्ड के कारण झूला बस्ती, रतनपुर के लोगों का जीना मुश्किल हो गया है। यहां पिछले कई दिनों से कूड़ा-कचरा लगातार जल रहा र है। जिससे लोग परेशान हैं। नगर निगम इस समस्या के समाधान को लेकर कोई भी गंभीर नहीं दिख रहा है। स्थानीय लोग कई बार शिकायत कर चुके है, इसके बावजूद भी जिम्मेदार इस ओर ध्यान नहीं दे रहे है।
पूर्व में नगर पालिका परिषद कोटद्वार की ओर से खोह नदी किनारे कूड़ा निस्तारण के लिए टे्रंचिंग ग्राउण्ड बनाया गया था। जिससे लोगों को उम्मीद जगी थी कि कूड़े की समस्या से निजात मिल जायेगी, लेकिन यह ट्रेंचिंग ग्राउण्ड आसपास की बस्तियों के लिए मुसीबत बन गया। यहां पर कूड़े पर आये दिन आग लगती रहती है। पिछले एक सप्ताह से अधिक समय से यहां कूड़ा-कचरा जल रहा है। आसपास के लोग दुर्गंध के साथ ही आग और उसके कारण उठने वाले धुएं से परेशान हैं। स्थानीय निवासी संजय का कहना है कि कूड़े की आग और धुएं से सांस लेना भी मुश्किल हो रहा है। लोग यहां बीमारी फैलने की आशंका से भयभीत हैं। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी से ज्यादा खतरा तो टे्रंचिंग ग्राउण्ड के कूड़े से बना हुआ है। राजकीय बेस अस्पताल के वरिष्ठ नेत्र सर्जन डॉ. दिनेश कुमार का कहना है कि कूड़ा जलने से उठने वाला धुआं अपने साथ कई तरह के केमिकल लाता है। जो लोगों के फेफड़ों को नुकसान कर सकते हैं। सांस लेने की दिक्कत के साथ ही दमा और अन्य बीमारी की भी आशंका बन सकती है। दूषित धुएं से आंखों को भी समस्या हो सकती है। कूड़ा सड़ने से पैदा होने वाले मक्खी, मच्छर संक्रामक बीमारियों को भी जन्म दे सकते हैं। नगर निगम के सफाई निरीक्षक सुनील कुमार का कहना है कि आग बुझाने के लिए कर्मचारियों को निर्देशित किया गया है। आग बुझाने का प्रयास किया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!