विवाहिता की मौत मामले में पति गिरफ्तार

Spread the love

जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार।
लैंसडौन पुलिस ने विवाहिता की मौत मामले में पति को गिरफ्तार किया है। विवाहिता के मायके पक्ष की ओर से दहेज अधिनियम सहित अन्य धाराओं में पति के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया था।
पुलिस उपाधीक्षक अनिल कुमार जोशी ने बताया कि दुगड्डा निवासी अजंलि का विवाह कुछ वर्ष पूर्व लैंसडौन तहसील के मुरान्यू गांव निवासी संदीप बिष्ट से हुआ था। 27 वर्षीय अंजलि बिष्ट पत्नी संदीप बिष्ट लैंसडौन में किराये के मकान में रहते थे। विगत 17 जनवरी की रात को लगभग 8 बजे पति-पत्नी में किसी बात को लेकर बहस हुई थी। इसके बाद पति कमरे से बाहर चला गया था। इसी दौरान करीब साढ़े आठ बजे पड़ोसियों ने फोन करके बताया था कि उनकी पत्नी अंजलि कमरे में बेहोशी की हालत में पड़ी हुई है। जिस पर वह तत्काल घर आया था। संदीप बेसुध पत्नी को लेकर यहां राजकीय बेस अस्पताल लाये थे। जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया था। मृतका के शव का पंचायतनामा भरकर तथा पोस्टमार्टम कराने के बाद शव को परिजनों के सुपुर्द कर दिया था। सीओ अनिल जोशी ने बताया कि किशन सिंह नेगी पुत्र स्व. राजेन्द्र सिंह नेगी ग्राम कैतोगी पट्टी सीला दुगड्डा ने संदीप बिष्ट पुत्र स्व. सुल्तान सिंह बिष्ट निवासी ग्राम मोरान्यू लैंसडौन के खिलाफ आईपीसी की धारा 340 (बी)/498 (ए) व 3/4 दहेज अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज कराया था। किशन सिंह नेगी ने बताया था कि उसकी बेटी मृतका अंजलि को उसका पति शादी के बाद से ही दहेज मांगने को लेकर प्रताडित करता था, जिस वजह से अंजलि ने 17 जनवरी 2021 को कोई नशीला पदार्थ खा लिया और उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई। सीओ ने बताया कि अभियुक्त संदीप बिष्ट को गांधी चौक लैंसडौन से गिरफ्तार कर लिया है। अभियुक्त को माननीय न्यायालय में पेश कर जेल भेज दिया जायेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!