चमोली आपदा: अब तक 26 शव बरामद, 25 लोगों को जिंदा बचाया

Spread the love

चमोली आपदाग्रस्त क्षेत्रों में जिला प्रशासन ने किया हेली रेस्क्यू
जयन्त प्रतिनिधि।
चमोली। चमोली जिले में रविवार को बर्फ का पहाड़ टूटने से आयी आपदा के दूसरे दिन भी रेस्क्यू आपरेशन पूरे दिन भर जारी रहा। यहां पर नन्दा देवी पर्वत के समीप टूटे ग्लेशियर से तपोवन और रैणी में बनी जल विद्युत परियोजना पूरी तरह से बह गई थी। जिसमें जानमाल सहित परिसंपत्तियों को भारी नुकसान पहुंचा है। वहीं नीति वैली के 13 गांवों से सड़क संपर्क टूटा है। जिला आपदा परिचालन केंद्र से मिली जानकारी के अनुसार 26 लोगों के शव बरामद हुए है और 25 लोगों को सकुशल जिन्दा रेस्क्यू किया गया। जबकि अन्य लोग लापता चल रहे है।
आपदा में सड़क, पुल बह जाने के कारण नीति वैली के जिन 13 गांवों से संपर्क टूट गया है उन गांवों में जिला प्रशासन चमोली द्वारा हैलीकॉप्टर के माध्यम से राशन, मेडिकल एवं रोजमर्रा की चीजें पहुंचायी जा रही है। जिलाधिकारी स्वाति एस भदौरिया ने बताया कि जब तक यहां पर वैकल्पिक व्यवस्था या पुल तैयार नहीं हो जाता तब तक हैली से यहां पर रसद पहुंचाने का काम जारी रहेगा और जल्द से जल्द क्षेत्र के लोगों की परेशानियां दूर करने का हर संभव प्रयास किया जाएगा। गांव में फंसे लोगों को राशन किट के साथ 5 किलो चावल, 5 किलो आटा, चीनी, दाल, तेल, नमक, मसाले आदि राहत सामग्री हैली से गांव गांव तक भेजी जा रही है। वही जिला प्रशासन ने नीति वैली के विभिन्न गांवो में फंसे 55 से अधिक लोगों को हैली से रेस्क्यू किया गया। साथ ही वैली के गांवों में मेडिकल टीम भी भेजी गयी है। आपदा प्रभावित क्षेत्र के साथ ही अलकनन्दा नदी तटों पर जिला प्रशासन की टीम लापता लोगों की खोजबीन में जुटी हैं।

ATR_08pm_08feb

टनल में फंसे लोगों को रेस्क्यू करना प्राथमिका
सोमवार को केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक ने आपदा प्रभावित क्षेत्र तपोवन का दौरा कर क्षति का जायजा लिया। केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि तपोवन टनल में फंसे लोगों को रेस्क्यू करना हमारी प्राथमिकता है। जो एरिया, गांव, क्षेत्र कट गए है उनको फिर से जोड़ने के लिए भी युद्ध स्तर पर काम होगा। वही केंद्रीय ऊर्जा मंत्री आरके सिंह ने भी क्षति का जायजा लिया।

सांसद ने लिया आपदा प्रभावित क्षेत्र का जायजा
गढ़वाल सांसद तीरथ सिंह रावत, जनपद प्रभारी मंत्री डॉ. धन सिह रावत, विधायक महेंद्र प्रसाद भट्ट, विधायक सुरेंद्र सिंह नेगी, भाजपा जिलाध्यक्ष रघुवीर बिष्ट ने भी तपोवन एवं रैणी में आपदा प्रभावित क्षेत्र का जायजा लिया। इस दौरान गढवाल सांसद एवं प्रभारी मंत्री ने प्रभावित परिवारों के परिजनों से मिले और उनको ढांढस बधाते हुए हर संभव मदद पहुंचाने का भरोसा दिलाया। प्रभारी मंत्री ने कहा कि जिला प्रशासन यहां पर बडे अच्छे समन्वय के साथ पुलिस, आईटीबीपी, आर्मी, एनडीआरएफ, एसडीआरएफ, बीआरओ सभी के सहयोग से युद्ध स्तर पर रातदिन रेस्कयू मे जुटा है और जिन्दगियों को बचाने के लिए हर संभव प्रयास किए जा रहे है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!