दो दिन पूर्व हुई महिला प्रोफेसर की हत्या में पड़ोसी युवक गिरफ्तार

Spread the love

-महिला द्वारा शारीरिक संबंधों के लिए दबाव बनाए जाने पर की थी हत्या
देहरादून। कोतवाली के अठूरवाला विस्थापित में दो दिन पूर्व हुई महिला प्रोफेसर की हत्या का पुलिस और एसओजी टीम ने 48 घंटे में खुलासा कर दिया है। पुलिस ने हत्या के आरोप में महिला के पड़ोस में ही रहने वाले एक युवक को गिरफ्तार किया है। आरोपित ने शारीरिक संबंधों के लिए दबाव बनाए जाने पर महिला की हत्या की थी। दरअसल, बीती नौ सितंबर को डोईवाला कोतवाली क्षेत्रांर्गत अठूरवाला विस्थापित सुनार गांव में रहने वाली एक रिटायर्ड प्रोफेसर पुतुल घोष(70 वर्ष) पुत्री अमल कुमार घोष की उसके ही घर पर ही हत्या कर दी गयी थी। रिटायर्ड प्रोफेसर मूल रूप से कोलकाता पश्चिम बंगाल की रहने वाली थी, जो पिछले कुछ वर्षों से यहां अपना मकान बनाकर रह रही थी। उनकी हत्या की गुत्थी को सुलझाने में पुलिस को महज 48 घंटे का समय लगा। शुक्रवार को पुलिस ने पक्के सबूत जुटाने के बाद तनुज असवाल निवासी सुनार गांव अठुरवाला को गिरफ्तार किया। हत्याकांड का खुलासा करते हुए एसपी देहात पदमेंद्र डोभाल ने बताया कि आरोपित तनुज असवाल का रिटायर्ड प्रोफेसर के घर पर लंबे समय से आना-जाना था। महिला के मोबाइल नंबर और व्हॉट्सएप पर दोनों के बीच बातचीत के साथ ही स्थानीय ग्रामीणों से पूछताछ में भी इस बात की तस्दीक हुई। इसके बाद आरोपित को कोतवाल सूर्य भूषण नेगी, वरिष्ठ उप निरीक्षक महावीर सिंह रावत और एसओजी टीम ने शहीद द्वार जौलीग्रांट क्षेत्र से गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में आरोपित तनुज ने बताया कि महिला उस पर शारीरिक संबंध बनाने के लिए दबाव बनाती थी। बात खुलने और समाज में बदनामी के डर से उसने रिटायर्ड प्रोफेसर की हत्या का मन बना दिया। तनुज ने बताया कि नौ सितंबर को वो महिला के घर में घुसा, जहां उसके हाथ और मुंह बांधकर डंडे से उसपर हमला कर मौत के घाट उतार दिया। पुलिस ने तनुज असवाल की तलाशी में उसके कब्जे से मृतका महिला के जरिए गिफ्ट में दी गई सोने की चेन, अंगूठी सहित करीब 12 तोला सोना और चार हजार 835 रुपए नगद बरामद किए हैं। एसपी देहात प्रमेंद्र डोभाल ने बताया कि घटना के रोज महिला के गले की सोने की चेन, सोने के कड़े, अंगूठी, झुमके, सिक्के, घड़ी नगदी आदि बरामद हुई थी।
हत्या के खुलासे में यह रहे शामिल रिटायर्ड प्रोफेसर की हत्या के खुलासे में डोईवाला कोतवाल सूर्य भूषण सिंह नेगी, निरीक्षक एसओजी ऐश्वर्या पाल, वरिष्ठ उप निरीक्षक महावीर सिंह रावत, शांति प्रसाद चमोली, कुलवंत सिंह, ज्योति सिंह, कपिल यादव, देवेंद्र नेगी, शशिकांत, विकास कुमार, भारत सिंह, प्रमोद कुमार, ललित कुमार, देवेंद्र कुमार, रविंद्र टम्टा, चंद्र मोहन सिंह, दीक्षा सैनी शामिल रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!