दुर्गम क्षेत्रों में फैली हुई आज भी भ्रांतियां

Spread the love

जयन्त प्रतिनिधि।
सतपुली। राष्ट्रीय विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी संचार परिषद् विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग भारत सरकार के उत्प्रेरण एवं सहयोग से समाज सेवा शिक्षा समिति कोटद्वार के तत्वाधान में जयहरीखाल ब्लॉक में विज्ञान प्रचारक कार्यशाला का आयोजन किया गया। मुख्य अतिथि अध्यापक हाईस्कूल काण्डई यशपाल सिंह नेगी ने कहा कि दुर्गम क्षेत्रों में आज के युग में भी न जाने कितनी भ्रान्तियां फैली है, जरूरत है सर्तकता एवं समझदारी की और नई पीढ़ी को समझाने की इस प्रकार के ढोंग से बचके रहे। समाज सेवा शिक्षा समिति कोटद्वार द्वारा चलायी जा इस प्रकार की कार्यशालाओं के आयोजन से समाज में निश्चित ही जागरूकता आयेगी।
कार्यशाला का शुभारम्भ मुख्य अतिथि प्रधानाचार्या श्रीवर्म स्कूल मलेथी श्रीमती आरती घिल्डियाल, प्रबन्धक स्वामी राम हिमालय इस्टीटयूट ऑफ एजयूकेशन खैरासैंण सतपुली, परमानन्द बलोदी, मुकेश चन्द्र भट्ट, संस्था के संरक्षक पूर्णानन्द गोस्वामी ने दीप प्रज्जवलित कर किया। संस्था के वरिष्ठ वैज्ञानिक प्रमोद मिश्रा ने बताया कि कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य प्रतिभागियों को अंधविश्वास के पीछे का विज्ञान बताना हैं। कार्यशाला में भ्रम उत्पन्न करना, हाथ में छेद करके दिखाना, अग्नि स्नान, फांसी का फंदा तोड़ना, पेट से, कान से पानी निकलना, सर पे आग लगाना, नीबू से खून निकालना, हाथ से खून निकालना आदि के बारे में बताया गया। कार्यक्रम में साक्षी नेगी, मानसी बहुगुणा, नवीन चौधरी, स्वाति, रूचि बिष्ट, मुकेश कुमार आदि मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!