जसपुर में तालाब में नहाने गए भाई बहन की डूबने से मौत

Spread the love

काशीपुर। परिजनों के साथ तालाब में नहाने गये मासूम भाई-बहन की डूबने से मौत हो गई। भाई-बहन की मौत से
परिजनों में कोहराम मचा हुआ है। शवों को जंगल में ही दफन कर दिया गया। विधायक और एसडीएम ने घर जाकर
परिजनों को सांत्वना दी। घटना शुक्रवार शाम की है। जानकारी के अनुसार ग्राम तीरथनगर प्रथम निवासी कैलाश शर्मा
की पत्नी पत्नी गीता शर्मा अपनी सास, आठ वर्षीय पुत्र नैतिक, सात वर्षीय पुत्री नीतिका और परिवार के अन्य सदस्यों
संग घर से करीब आधा किलोमीटर दूर तीर्थ मंदिर आयी थीं। मंदिर के पास ही तालाब के बारे में मान्यता है कि यहां
नहाने से चर्म रोग दूर होते हैँ। परिवार के सभी लोग तालाब में नहाने लगे। इस दौरान गीता ने दोनों बच्चों नैतिक और
नीतिका को तालाब के किनारे बिठाकर नहलाया। इसके बाद वह अपनी सास संग तालाब में डुबकी लगाकर निकल
आयीं। इसी बीच नैतिक, नीतिका और उनका एक चचेरा भाई फिर तालाब में उतर गये। तीनों बच्चे डुबकी लगाने के
चक्कर में गहरे पानी की ओर बढ़ गये।तालाब के बाहर कुछ दूरी पर मौजूद नैतिक के ताऊ सीताराम तीनों बच्चों को देख
तालाब में कूद पड़े, लेकिन उन्हें भी तैरना नहीं आता। सीताराम ने सबसे पीछे चल रहे अपने बेटे को किसी तरह निकाल
लिया, लेकिन जब तक वह दोबारा नैतिक-नीतिका तक पहुंचते वे गहरे पानी में डूब चुके थे। शोर होने पर ग्रामीण तालाब
में पहुंचे और दोनों बच्चों को निकाला, लेकिन तब तक उनकी मौत हो गयी थी। परिजनों ने देर शाम को ही बच्चों के
शव दफन कर दिये। शनिवार को जानकारी मिलने पर विधायक आदेश चौहान, पूर्व विधायक डॉ. शैलेंद्र मोहन सिंघल
और एसडीएम सुंदर सिंह ने पीड़ित परिवार के घर पहुंचकर सांत्वना दी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!