कोटद्वार में कोरोना मरीजों की बढ़ती संख्या से प्रशासन अलर्ट पर: तीन और कोविड केयर सेंटर बनाए

Spread the love

एसडीएम ने किया कोविड केयर सेंटर का निरीक्षण
जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार। कोटद्वार तहसील क्षेत्र में तेजी से फैल रहे कोरोना संक्रण को देखते हुए स्थान प्रशासन ने कोटद्वार में तीन कोविड केयर सेंटर तैयार कर लिये है। जिसमें कोरोना संदिग्धों को रखा जायेगा। स्थानीय प्रशासन ने कोटद्वार में कोविड केयर सेंटर बनाने के लिए कौड़िया, कण्वाश्रम में पर्यटन विभाग के गेस्ट हाऊस और भाबर पॉलटेक्निक कॉलेज को चिन्हित किया है। सोमवार से कोविड केयर सेंटर शुरू हो जायेगें। प्रशासन इसकी तैयारी में जुटा है। उपजिलाधिकारी कोटद्वार ने संबंधित विभागीय अधिकारियों को दो दिन में कोविड केयर सेंटर में सभी आवश्यक सुविधाओं को मुहैया कराने को कहा है।
उपजिलाधिकारी योगेश मेहरा ने शनिवार को कौडिया स्थित गढ़वाल मंडल विकास निगम के गेस्ट हाउस, कण्वाश्रम स्थित गढ़वाल मंडल विकास निगम के गेस्ट हाउस, भाबर पॉलटेक्निक कॉलेज का निरीक्षण किया। उपजिलाधिकारी ने बताया कि कोटद्वार एवं आसपास के क्षेत्र में कोरोना मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए कोविड केयर सेंटर बनाने का निर्णय लिया गया। जहां पर कोरोना संदिग्ध मरीजों को भर्ती करवाया जायेगा। संदिग्धों की रिर्पोट पॉजिटिव आने के बाद राजकीय बेस अस्पताल के आइसोलशन वार्ड में उपचार के लिए भर्ती कराया जायेगा। उन्होंने जल संस्थान, नगर निगम, विद्युत विभाग, स्वास्थ्य विभाग समेत संबंधित विभागीय अधिकारियों को कोविड केयर सेंटर में जरूरी सुविधाओं को दो दिन के अंदर उपलब्ध कराने को कहा है। उन्होंने बताया कि सोमवार से उक्त कोविड केयर सेंटर शुरू हो जायेगें। कौड़िया गेस्ट हाऊस में 80, कण्वाश्रम गेस्ट हाऊस में 40 और भाबर पॉलटेक्निक कॉलेज में 60 बेड की व्यवस्था की गई है। जरूरत पड़ने पर बेड की संख्या बढ़ाई जा सकती है। एसडीएम ने बताया कि कोविड केयर सेंटर में एक चिकित्सक की तैनाती व एक एम्बुलेंस हर समय उपलब्ध रहेगी। नगर निगम के सफाई कर्मचारियों को सफाई की जिम्मेदारी सौंपी गई है। इस मौके पर सहायक नगर आयुक्त अंकिता जोशी, सफाई निरीक्षक सुनील कुमार, सोवेन्द्र चौधरी, तहसीलदार विकास अवस्थी, स्वास्थ्य केन्द्र दुगड्डा के प्रभारी डॉ. शैलेश बड़थ्वाल समेत अन्य विभागीय अधिकारी उपस्थित रहे।

 

कोटद्वार के कोरोना पॉजीटिव व्यापारी के परिवार में कोरोना संक्रमितों की संख्या पहुंची सात
जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार। जनपद पौड़ी गढ़वाल के कोटद्वार शहर में कोरोना का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। गोविन्द नगर में व्यापारी बेटे, माँ और परिवार के तीन सदस्यों की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद व्यापारी परिवार के दो परिजनों में कोरोना वायरस की पुष्टि हुई है। गोविन्द नगर में एक ही परिवार के सात सदस्यों के कोरोना संक्रमित होने से जहां स्वास्थ्य विभाग, स्थानीय प्रशासन में हड़कंप मचा हुआ है। वहीं लोगों में भय व्याप्त है।
उपजिलाधिकारी योगेश मेहरा ने बताया कि विगत 14 जून को गोविन्दनगर निवासी माँ-बेटे की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। माँ-बेटे की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद स्वास्थ्य विभाग ने माँ-बेटे के परिवार के 11 सदस्यों समेत वाहन चालक और दुकान पर काम करने वाले कर्मचारियों के 25 सदस्यों को बेस अस्पताल के आईसोलेशन वार्ड में भर्ती कर दिया था। 14 जून को इन सभी लोगों के सैंपल लेकर जांच के लिए एम्स ऋषिकेश भेज दिया था। 18 जून को परिवार के तीन सदस्यों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। एसडीएम ने बताया कि शनिवार सुबह गोविन्द नगर निवासी व्यापारी के परिवार के दो सदस्य 55 वर्षीय व्यक्ति और 22 युवती की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। अभी परिवार के चार सदस्यों की रिपोर्ट आनी बाकी है। बेस अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में कोरोना पॉजिटिव आये परिवार के सात सदस्यों का उपचार चल रहा है। गोविन्द नगर में एक ही परिवार के सात सदस्यों की रिपोर्ट पॉजिटिव आने से जहां स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मचा हुआ है, वहीं गोविन्द नगर वासियों में दहशत बनी हुई है। शनिवार को परिवार के तीन सदस्यों की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद स्थानीय लोगों में दहशत बनी हुई है। कोटद्वार में कोरोना संक्रमितों की संख्या करीब 12 हो गई है।
ज्ञात हो कि व्यापारी की माँ विगत 28 मई को फरीदाबाद हरियाणा उपचार कराने के बाद कोटद्वार वापस आई थी। माँ-बेटे को बुखार की शिकायत पर 10 जून को राजकीय बेस अस्पताल कोटद्वार के आइसोशलन वार्ड में भर्ती कराया गया था और सौंपल लेकर 11 जून को जांच के लिए एम्स ऋषिकेश भेज दिया था। 13 जून को माँ-बेटे की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। माँ-बेटे की जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद स्वास्थ्य विभाग ने परिवार के 11 सदस्यों समेत वाहन चालक और दुकान पर काम करने वाले कर्मचारियों के 25 सदस्यों को बेस अस्पताल के आईसोलेशन वार्ड में भर्ती कर दिया था। जिले में लगातार कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़ रही है। कोटद्वार में स्थानीय लोगों में कोरोना की पुष्टि होने से स्वास्थ्य विभाग की चिंता बढ़ गई है।

बॉक्स समाचार
कोटद्वार भाबर में पॉजिटिव आये तीन व्यक्तियों के संपर्क में आये 15 लोगों को किया क्वारंटाइन
जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार। कोटद्वार भाबर के झण्डीचौड़ और उमरावनगर में कोरोना पॉजिटिव आये दो व्यक्तियों के सम्पर्क में आये 15 लोगों को स्वास्थ्य विभाग ने क्वारंटाइन कर दिया है। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों का कहना है कि यह सभी लोग विभाग की निगरानी है।
ज्ञात हो कि गत शुक्रवार को कोटद्वार तहसील क्षेत्र में चार लोगों की कारोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। झण्डीचौड़ निवासी 38 वर्षीय पति और 29 वर्षीय पत्नी निजी कार से पालम नई दिल्ली से कोटद्वार आये थे। 16 जून को तबीयत बिगड़ने पर राजकीय बेस अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती किया गया था। विकासखंड दुगड्डा के एक गांव निवासी 30 वर्षीय युवक दक्षिणपुरी दिल्ली से विगत 14 जून को निजी वाहन से कोटद्वार आया। प्रशासन की ओर से युवक को होम क्वारंटाइन किया गया था। 15 जून को तबीयत खराब होने पर युवक को राजकीय बेस अस्पताल कोटद्वार के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती किया गया था। वहीं उमरावनगर कोटद्वार निवासी 41 वर्षीय व्यक्ति बीएसएफ में कार्यरत है। वर्तमान में वह कालका नई दिल्ली में तैनात है। विगत 14 जून को वह छुट्टी लेकर निजी कार से कोटद्वार आया और घर पर क्वारंटाइन थे। 15 जून को तबीयत बिड़गने पर राजकीय बेस अस्पताल कोटद्वार के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती किया गया था। स्वास्थ्य विभाग की ओर से इन सभी प्रवासियों के सैंपल कोरोना जांच के लिए एम्स ऋषिकेश भेज दिये थे। गुरूवार देर सांय को उक्त सभी लोगों की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। जिस पर स्वास्थ्य विभाग की टीम ने झण्डीचौड़ और उमरावनगर में पॉजिटिव आये व्यक्तियों के सम्पर्क में आये लोगों को चिन्हित किया। राजकीय बेस अस्पताल कोटद्वार के प्रमुख अधीक्षक डॉ. वीसी काला ने बताया कि झण्डीचौड़ और उमरावनगर में पॉजिटिव आये व्यक्तियों के सम्पर्क में आये 15 लोगों को क्वारंटीन कर दिया गया है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!