कोटद्वार सेना भर्ती: 46376 में से 39208 पहुंचे, 6773 निकले फिजिकल फिट, मेडिकल जारी

Spread the love

जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार। सेना में भर्ती होने की हसरत दिल में रखने वाले अधिकतर बेरोजगार युवाओं का सपना टूट गया है। विक्टोरिया क्रॉस गब्बर सिंह कैंप कौड़िया में सेना की भर्ती रैली की फिजिकल प्रक्रिया सम्पन्न हो गई है। अधिकांश युवा भर्ती प्रक्रिया की पहली बाधा दौड़ भी पास नहीं कर पा रहे है। भर्ती रैली में 39208 अभ्यर्थियों ने प्रतिभाग किया। इनमें से 37164 अभ्यर्थियों ने दौड़ में प्रतिभाग किया। जिसमें से मात्र 6804 अभ्यथी ही दौड़ पास करने में सफल रहे। जबकि 6773 अभ्यथी फिजिकल में पास हुए। इन सभी अभ्यर्थियों का मेडिकल टेस्ट चल रहा है। भर्ती रैली के लिए 46376 युवाओं ने भर्ती रैली के लिए ऑनलाइन पंजीकरण किया था।
गढ़वाल राइफल्स रेजीमेंटल सेंटर (जीआरआरसी) लैंसडौन की ओर से विक्टोरिया क्रॉस गबर सिंह कैंप कौड़िया कोटद्वार में गढ़वाल मंडल के पौड़ी, रूद्रप्रयाग, चमोली, उत्तरकाशी, टिहरी, देहरादून और हरिद्वार जनपद की भर्ती की गई। इसमें पहली सीढ़ी 1600 मीटर दौड़ में ही युवाओं का दम फूल गया। करीब 200-200 युवकों के ग्रुप को एक साथ दौड़ाया गया। 1600 मीटर की दौड़ में मैदान के चार चक्कर लगाने थे, लेकिन अधिकतर युवा पहले और दूसरे राउंड में ही बाहर हो रहे थे। शेष बचे हुए युवा निर्धारित समय तक दौड़ पूरी नहीं कर पाये। विक्टोरिया क्रॉस गबर सिंह कैंप कौड़िया में आयोजित भर्ती रैली में सेना के अधिकारी भी इस बात से चिंतित नजर आ रहे है। भर्ती रैली में 37164 युवाओं ने प्रतिभाग किया। जिसमें से मात्र 6804 युवा ही दौड़ पास कर पाये है। उधर, सेना भर्ती कार्यालय लैंसडौन के भर्ती निदेशक कर्नल विनीत वाजपेयी का कहना है कि पहाड़ के युवाओं का दम दौड़ में फूल रहा है और उनकी लंबाई भी कम हो रही है। सेना में भर्ती होने के लिए युवाओं को जोश के साथ नियमित रूप से अभ्यास पर भी जोर देना होगा। सेना में वे ही लोग भर्ती हो सकते हैं जो निर्धारित मानकों को पूरा करें। जिसमें एक मील की दौड़ और ऊंचाई मुख्य बाधा है। हालांकि इन तमाम बाधाओं को कई युवाओं ने पूरा भी किया है। शारीरिक परीक्षण में उतीर्ण हुए युवाओं का मेडिकल किया जाएगा। उन्होंने कहा कि 20 दिसम्बर 2020 से 2 जनवरी 2021 तक विक्टोरिया क्रॉस गबर सिंह कैंप कौड़िया कोटद्वार में गढ़वाल मंडल के पौड़ी, रूद्रप्रयाग, चमोली, उत्तरकाशी, टिहरी, देहरादून और हरिद्वार जनपद की भर्ती की गई। भर्ती रैली के लिए 46376 युवाओं ने भर्ती रैली के लिए ऑनलाइन पंजीकरण किया था। जिसमें से भर्ती रैली में करीब 39208 युवकों ने भर्ती रैली में भाग लिया। 37164 युवाओं ने 1600 मीटर की रेस में भाग लिया। जिसमें से मात्र 6804 युवक दौड़ में पास हुये है। उन्होंने बताया कि लंबाई और सीने की माप में करीब पांच सौ अभ्यर्थी फेल हुए है। फिजिकल टेस्ट में 6773 अभ्यर्थी पास हुए है। फिजिकल टेस्ट में पास अभ्यर्थियों का मेडिकल टेस्ट चल रहा है। प्रतिदिन 400 से 450 अभ्यर्थियों का मेडिकल चल रहा है। आगामी दस दिनों तक मेडिकल टेस्ट चलता रहेगा। उन्होंने कहा कि भर्ती शांतिपूर्ण तरीके से पारदर्शिता के साथ संपन्न हो गई है।

इन तहसीलों के 30360 युवा दौड़ में हुए बाहर
कोटद्वार। गढ़वाल राइफल्स रेजीमेंटल सेंटर (जीआरआरसी) लैंसडौन की ओर से विक्टोरिया क्रॉस गबर सिंह कैंप कौड़िया कोटद्वार में भर्ती रैली शुरू की गई। 20 दिसम्बर को उत्तरकाशी जिले के उत्तरकाशी जिले की पुरोला, मोरी, राजगड़ी, डूंडा, चिन्यालीसौड़, भटवाड़ी और बड़कोट तहसील के अभ्यर्थियों की भर्ती की गई। उक्त तहसीलों के 2744 अभ्यर्थी रैली स्थल पर पहुंचे। इनमें से 522 अभ्यर्थियों ने दौड़ की पहली बाधा पार कर पाये। 21 दिसम्बर को उत्तरकाशी के बड़कोट और रुद्रप्रयाग जिले के ऊखीमठ, जखोली और बसुकेदार तहसील के अभ्यर्थियों की भर्ती की गई। उक्त तहसीलों के 3056 युवाओं ने भर्ती रैली में प्रतिभाग किया। जिसमें से मात्र 676 अभ्यर्थी ही दौड़ में पास हो पाये। 22 दिसम्बर को रूद्रप्रयाग जिले की रूद्रप्रयाग तहसील एवं टिहरी गढ़वाल की घनसाली और देवप्रयाग की भर्ती हुई। रैली में 3159 अभ्यर्थियों ने ही प्रतिभाग किया। जिसमें से 603 ही दौड़ को पास कर पाये। 23 दिसम्बर को टिहरी जनपद की प्रतापनगर, टिहरी, धनौल्टी, जाखणीधार और नरेन्द्र्रनगर तहसील के अभ्यर्थियों की भर्ती की गई। भर्ती रैली में 3084 अभ्यर्थी शामिल हुए। इनमें से 574 ही भर्ती की पहली प्रक्रिया दौड़ को पास कर पाये। 24 दिसंबर को टिहरी गढ़वाल के कंडीसौण, गजा और कीर्तिनगर और चमोली जिले के थराली, गैरसैंण, आदिबद्री तहसील के अभ्यर्थियों की भर्ती की गई। भर्ती रैली में 3171 अभ्यर्थी ही शामिल हुए। जिसमें से 610 अभ्यर्थी ही 1600 मीटर दौड़ पास कर पाये। 25 दिसम्बर को चमोली जिले के जोशीमठ, चमोली, कर्णप्रयाग, देवल, नारायणबगढ़, नगासू, नंद्रप्रयाग और घाट तहसील के अभ्यर्थियों की भर्ती की गई। 2999 अभ्यर्थी रैली स्थल पर पहुंचे। जिसमें से मात्र 449 अभ्यर्थी ही दौड़ में पास हो पाये। 26 दिसम्बर को चमोली जिले की पोखरी तहसील के साथ पौड़ी जिले की जाखणीखाल, बीरोंखाल और पौड़ी तहसील के अभ्यर्थियों की भर्ती की गई। 3014 अभ्यर्थी रैली स्थल पर पहुंचे। 1600 मीटर दौड़ में मात्र 555 अभ्यर्थी ही पास हो पाये। 27 दिसम्बर को पौड़ी जिले की लैंसडौन, सतपुली और श्रीनगर तहसील के अभ्यर्थियों की भर्ती की गई। 3175 अभ्यर्थी रैली स्थल पर पहुंचे। दौड़ में 3175 अभ्यर्थियों में से मात्र 638 अभ्यर्थी ही पास हो पाये। 28 दिसम्बर को पौड़ी जिले की थलीसैंण, धुमाकोट, चौबट्टाखाल तहसील की भर्ती की गई। रैली स्थल पर 3153 युवाओं ने प्रतिभाग किया और 592 ने दौड़ पास की। 29 दिसम्बर को पौड़ी जिले की कोटद्वार, यमकेश्वर और चाकीसैंण तहसील के अभ्यर्थियों की भर्ती की गई। 3056 अभ्यर्थी रैली स्थल पर पहुंचे। दौड़ में 514 अभ्यर्थी ही पास हो पाये। 30 दिसतम्बर को हरिद्वार जिले की रुड़की, हरिद्वार और भगवानपुर तहसील की भर्ती की गई। 2476 अभ्यर्थी रैली स्थल पर पहुंचे। 1600 मीटर दौड़ में 233 अभ्यर्थी ही पास हो पाये। 31 दिसम्बर को हरिद्वार जिले के लक्सर व देहरादून जिले की देहरादून तहसील की भर्ती की गई। 2432 अभ्यर्थी रैली स्थल पर पहुंचे। 383 अभ्यर्थी ही दौड़ पास हो पाये। 1 जनवरी 2021 को देहरादून जिले की चकराता, विकासनगर, त्यूणी तहसील की भर्ती की गई। 2043 अभ्यर्थी रैली स्थल पर पहुंचे। 317 अभ्यर्थी दौड़ पास करने में सफल रहे। 2 जनवरी को देहरादून जिले के ऋषिकेश, डोईवाला और कालसी तहसील के अभ्यर्थियों की भर्ती की गई। भर्ती रैली में 1478 अभ्यर्थियों ने प्रतिभाग किया। दौड़ में 190 अभ्यर्थी ही दौड़ पास कर पाये।

सेना भर्ती रैली: देहरादून जिले के ऋषिकेश, डोईवाला और कालसी के 190 युवा दौड़ में पास
जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार। गढ़वाल राइफल्स रेजीमेंटल सेंटर (जीआरआरसी) लैंसडौन के तत्वावधान में आयोजित भर्ती रैली के 14वें दिन शनिवार को देहरादून जिले के ऋषिकेश, डोईवाला और कालसी तहसील के अभ्यर्थियों की भर्ती की गई। उक्त तहसीलों के 1478 अभ्यर्थी भर्ती स्थल पर पहुंचे। जिसमें से 190 अभ्यर्थी दौड़ पास करने में सफल रहे।


शनिवार को विक्टोरिया क्रॉस गबर सिंह कैंप कौड़िया में आयोजित भत्र्ती रैली में देहरादून जिले के ऋषिकेश, डोईवाला और कालसी तहसील के युवाओं ने प्रतिभाग किया। उक्त तहसीलों के 2116 युवाओं ने भर्ती के लिए दमखम दिखाया, लेकिन ज्यादातर युवाओं की 1600 मीटर की दौड़ में सांस फूल गई। 2116 युवाओं ने सेना में भर्ती होने के लिए दौड़ में हिस्सा लिया, जिसमें से मात्र 190 युवा ही सेना में भर्ती होने के लिए पहली सीढ़ी पार कर सके। जोश और देश भक्ति के जज्बे से लबरेज युवा सुबह 5 बजे ही काशीरामपुर तल्ला स्थित मैदान में विक्टोरिया क्रॉस गबर सिंह कैंप में एंट्री के लिए पहुंच गए थे। यहां सबसे पहले युवाओं की कोविड-19 नेगेटिव रिपोर्ट चेक की गई। इसके बाद में प्रवेश पत्रों और बार कोड की जांच हुई। इसके बाद युवाओं को मैदान में भेजा गया। जहां 1600 मीटर दौड़ का आयोजन किया गया। भर्ती अधिकारियों ने करीब 200 के समूह में युवाओं की दौड़ कराई, लेकिन सेना द्वारा निर्धारित समय में 2116 में से सिर्फ 190 युवा ही दौड़ पूरी करने में सफल रहे। सेना भर्ती कार्यालय लैंसडौन के भर्ती निदेशक कर्नल विनीत वाजपेयी ने बताया कि देहरादून जिले के ऋषिकेश, डोईवाला और कालसी तहसील की भर्ती की गई। उक्त तहसीलों के 2116 अभ्यर्थियों ने पंजीकरण कराया था। जिसमें से 1478 अभ्यर्थी रैली स्थल पर पहुंचे। उक्त तहसीलों के 638 अभ्यर्थी अनुपस्थित रहे। 1600 मीटर दौड़ में 1478 अभ्यर्थियों में से मात्र 190 अभ्यर्थी ही पास हो पाये। दौड़ में सफल होने वाले अभ्यर्थियों को चिनअप, लंबी कूद की प्रक्रिया से गुजरना होगा। इसमें पास होने वाले अभ्यर्थियों की छाती, लम्बाई की माप की जायेगी। उक्त प्रक्रिया में पास होने वाले युवाओं का मेडिकल टेस्ट किया जायेगा।

28 फरवरी को होगी लिखित परीक्षा
कोटद्वार। सेना भर्ती कार्यालय लैंसडौन के भर्ती निदेशक कर्नल विनीत वाजपेयी ने बताया कि भर्ती रैली की दौड़, लंबाई, वजन, सीने की माप, लंबी कूद, चिनअप, शैक्षिक प्रमाण पत्रों सहित अन्य प्रमाण पत्रों की जांच व मेडिकल टेस्ट में पास होने वाले अभ्यर्थियों की लिखित परीक्षा आगामी 28 फरवरी को लैंसडौन में आयोजित की जाएगी। लिखित परीक्षा में पास होने वाले अभ्यर्थियों का मेरिट के आधार पर चयन किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!