निसर्ग तूफान: मुम्बई के सभी बीच पर धारा 144 लागू

Spread the love

मुंबई, एजेन्सी। निसर्ग तूफान के मद्देनजर मुंबई के सभी बीच पर धारा 144 लागू कर दिया है। इसके साथ ही लोगों को सख्त हिदायत दी गई है कि वे बीच पर समूह में इकट्ठा न हों। जहां तक संभव हो घरों में रहें। इस संबंध में प्रशासन की ओर से जारी आदेश में कहा कहा गया है कि मरीन ड्राइव पर सैर के लिए बैठना मना है। किसी भी तरह की सामूहिक एक्टिविटी या सामूहिक दौड़ की इजाजत नहीं है। सुबह पांच बजे से शाम सात बजे तक केवल जॉगिंग, पैदल भ्रमण और दौड़ने की इजाजत रहेगी लेकिन इस दौरान 6 फीट की दूरी बनाते हुए सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा।
आपको बता दें कि अक्सर बारिश या मौसम सुहाना होने पर लोग समूह में मुंबई के बीच पर इकट्ठा हो जाते हैं। निसर्ग तूफान के खतरे के मद्देनजर इस बार प्रशासन पहले से काफी अलर्ट है, इसलिए धारा 144 लागू कर दिया गया है ताकि ज्यादा तादाद में लोग बीच पर इकट्ठा न हो सकें।
चक्रवात ‘निसर्ग’ के मद्देनजर महाराष्ट्र के पालघर जिले के गांवों से 21 हजार से अधिक लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है। इस तूफान के तीन जून को राज्य के पश्चिमी तट से टकराने की संभावना है। जिलाधिकारी कैलास शिन्दे ने मंगलवार को बताया कि वसई, पालघर, दहानु और तालासरी तालुकाओं के 21,080 ग्रामीणों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है। उन्होंने कहा कि जिला आपदा प्रबंधन कार्यक्रम लागू कर दिया गया है। इस अवधि में सभी औद्योगिक और वाणिज्यिक प्रतिष्ठान बंद रहेंगे। जिलाधिकारी ने कहा कि मछुआरों से चार जून तक समुद्र में न जाने को कहा गया है। चक्रवात के मद्देनजर राज्य में राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) की 10 टीमें तैनात की गई हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!