एसडीएम ने जांची क्वारंटाइन सेंटरों की व्यवस्थाएं

Spread the love

बागेश्वर। एसडीएम योगेंद्र सिंह ने तहसील के विभिन्न संस्थागत और फैसिलिटी क्वारंटाइन सेंटरों का निरीक्षण किया। उन्होंने भोजन की गुणवत्ता पर विशेष ध्यान देने को कहा। बिजली, पेयजल आपूर्ति नियमित बनाए रखने और शौचालय को स्वच्छ रखने के भी निर्देश दिए। केंद्रों में मौजूद प्रवासियों से किसी तरह की समस्या होने पर तत्काल सूचित करने को भी कहा। तहसील के दो संस्थागत क्वारंटाइन सेंटर आईटीआई और एबडियल पब्लिक स्कूल में दो दिन पूर्व बासी भोजन की शिकायत मिली थी। एसडीएम ने सुविधाओं और व्यवस्थाओं की जानकारी लेने के लिए क्वारंटाइन सेंटरों का निरीक्षण शुरू कर दिया है। शनिवार को वह दोनों संस्थागत क्वारंटाइन सेंटर गए। उन्होंने भोजन और अन्य सुविधाएं जांची। प्रवासियों से उनकी परेशानी के बारे में पूछा। इस दौरान अधिकांश लोगों ने कहा कि एक दिन को छोड़कर बाकी दिन भोजन में शिकायत नहीं थी। इसके बाद एसडीएम ने सिमकूना, खांतोली और सानिउडियार के आधा दर्जन फेसिलिटी सेंटर क्वरंटाइन केंद्रों का भी दौरा किया। औचक निरीक्षण के दौरान उन्होंने लोगों से बातचीत कर व्यवस्थाओं के बारे में जानकारी ली। उन्होंने बताया कि गुरुवार को संस्थागत क्वारंटाइन में दाल के बासी होने की शिकायत मिली थी। इसकी जांच पर पता चला कि भोजन व्यवस्था वाली फर्म के पास उस दिन एक ही कारीगर था, इसके चलते उसने सुबह जल्दी दाल बना दी थी। हालांकि शिकायत मिलने के बाद उस भोजन को नष्ट करा दिया गया था। उन्होंने कहा कि सभी कर्मचारियों को भोजन और अन्य व्यवस्थाओं को लेकर कड़े निर्देश दिए गए हैं। किसी प्रकार की लापरवाही करने वाले के खिलाफ सख्त कदम उठाए जाएंगे।
एसडीएम और डीडीओ पहुंचे क्वारंटाइन सेंटर
बागेश्वर। नगर के एसडीएम राकेश चंद्र तिवारी और डीडीओ केएन तिवारी ने भी क्वारंटाइन केंद्रों का निरीक्षण कर व्यवस्थाएं जांची। एसडीएम तिवारी ने जौलकांडे और अमसरकोट तथा डीडीओ तिवारी ने राउमावि अनर्सा और राप्रावि देवलचौड़ में बने क्वारंटाइन सेंटरों का जायजा लिया। ग्राम प्रधानों से सभी प्रवासियों को बेहतर सुविधाएं देने को कहा। इस दौरान उन्होंने भोजन, बिजली, पेयजल, शौचालय आदि सुविधाओं की भी जांच की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!