सल्ट खुमाड़ के शहीदों को भावपूर्ण श्रद्धांजलि दी

Spread the love

अल्मोड़ा। अंग्रेजी हुकूमत के खिलाफ 5 सितंबर 1942 को सल्ट खुमाड़ में हुये विरोध में शहीद स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों को शनिवार को भावपूर्ण श्रद्धांजलि दी गई। देश की आजादी के लिये शहीदों के बलियान को याद किया गया। इस दौरान राज्य सांसद प्रदीप टम्टा, क्षेत्रीय विधायक सुरेंद्र सिंह समेत क्षेत्र के विभिन्न सामाजिक एवं राजनीतिक संगठनों के लोगों ने खुमाड़ पहुंच कर स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों के स्मारक पर पुष्प चढ़ाकर श्रद्धांजलि दी।
स्वतंत्रता आंदोलन में सल्ट खुमाड़ क्षेत्र का बड़ा योगदान रहा। 5 सितंबर 1942 को सल्ट खुमाड़ में अंग्रेजों के खिलाफ विद्रोह में अंग्रेज सैनिकों की गोली से खुमाड़ निवासी दो भाई गंगाराम, खीमदेव मौके पर ही शहीद हो गये थे। जबकि खुमाड़ निवासी गंभीर रूप से घायल चूड़ामणि और बहादुर सिंह दूसरे दिन यानि छह सितंबर 1942 को शहीद हुये। सेनानियों की वीरता को देखते हुये महात्मा गांधी ने भी सल्ट के खुमाड़ को बारदोली (वीरों की टोली) का नाम दिया था। तब से लगातार सल्ट खुमाड़ में 5 सितंबर को शहीद दिवस मनाया जाता है। शनिवार को राज्य सभा सांसद प्रदीप टम्टा ने शहीदों के स्मारक पर श्रद्धांजलि दी। उन्होंने कहा कि खुमाड़ के शहीद स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों को बलिदान देश हमेशा याद रखेगा। क्षेत्रीय विधायक सुरेंद्र सिंह जीना सहित अन्य लोगों ने भी विचार रखे। कोरोना महामारी के चलते इस बार शहीद दिवस सादगी के साथ मनाया गया। अन्य वर्षो तक तरह सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन नहीं किया गया। सेनानियों के वीरगाथा का वर्णन किया गया।
श्रद्धांजलि देने में ये रहे शामिल
पूर्व विधायक रणजीत रावत, कांग्रेस नेता गंगा पंचोली, ब्लाक प्रमुख सल्ट विक्रम रावत, प्रताप रावत, दीपक शर्मा, नारायण सिंह रावत, एसडीएम सल्ट शिप्रा जोशी, थानाध्यक्ष धीरेंद्र पन्त, तारा दत्त शर्मा, गोविंद बल्लभ उपाध्याय, अमित रावत, साहिल रावत, संजय सिंह रावत आदि।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!